---Advertisement---

किसान भाइयों की तो मौज हो गयी- खेत में नलकूप लगाने हेतु मिल रहे ₹40000, आवेदन करने की पूरी जानकारी यहाँ पढ़िए

Bihar Sarkar Tube well Subsidy

Bihar Sarkar Tube well Subsidy: देश में सिंचाई की लागत लंबे समय से किसानों के लिए एक समस्या रही है। बिहार में भी फसलों को सही समय पर पानी नहीं मिलने से वे अच्छी पैदावार नहीं कर पाते हैं।

इस राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश के मौसम में लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा, वहीं कुछ इलाकों में पानी की कमी से परेशानी हो रही है. ऐसे में बिहार सरकार किसानों को सूक्ष्म सिंचाई के लिए व्यक्तिगत ट्यूबवेल लगाने पर सब्सिडी देती है।आपको इसका लाभ उठाने के लिए क्या करना चाहिए? आइये आपको आगे बताते हैं..

पानी और उर्वरक की होगी बचत

जल जीवन हरियाली अभियान का उद्देश्य लोगों को सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली योजनाओं से जोड़कर राज्य में जल दोहन को रोकना है। विशेषज्ञों के अनुसार, ट्यूबवेल 60% तक पानी बचा सकते हैं और उर्वरक की खपत 25 से 30% तक कम कर सकते हैं। इस योजना के परिणामस्वरूप, किसानों को उनकी फसलों पर उचित मूल्य और अच्छा मुनाफा मिल सकेगा। यह बिहार सरकार की एक बहुत अच्छी पहल है.

जल जीवन हरियाली योजना के तहत कितनी मिल रही सब्सिडी

बिहार में किसानों को अब पानी बचाने और बेहतर फसल पैदा करने में मदद करने के लिए बंपर सब्सिडी मिल रही है। राज्य सरकार द्वारा हर खेत को सिंचित करने के लिए सूक्ष्म सिंचाई योजना क्रियान्वित की जा रही है। इस योजना के तहत किसानों को अधिकतम 40,000 रुपये की सब्सिडी मिलेगी।

कैसे करें आवेदन (How to apply)

इस सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए बिहार सरकार किसानों को ड्रिप सिंचाई तकनीक और सूक्ष्म सिंचाई तकनीक से जोड़ेगी. आप किसान उधा निदेशालय की आधिकारिक वेबसाइट (http://horticulture.bihar.gov.in) पर जाकर आवेदन कर सकते हैं. साथ ही मंत्री कुमार सर्वजीत ने कहा कि ड्रिप सिंचाई तकनीक का उपयोग किसान समूह में कर सकते हैं. ऐसा करना किसान भाइयों के लिए काफ़ी सही साबित होगा.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में चिपका दें साथ हि इस जानकारी को किसान भाइयों तक जरुर शेयर करें ताकि वे बबी इसका लाभ उठा सकें. ऐसे और ताज़ा अपडेट को तीव्र गति से पाने के लिए हमारे WhatsApp चैनल को ज्वाइन कर सकते हैं.

Raju Yadav

मुझे इन्टरनेट जगत की तमाम खबरों को आप तक आपके भाषा में पहुँचाने में काफ़ी ख़ुशी मिलती है. आप सभी "व्यापार सीखो" के माध्यम से बिज़नेस आईडिया, फाइनेंस, ऑटो-मोबाइल्स, तकनीकी संबंधित खबरों को एकदम सरल भाषा में पढ़ सकते हैं। मुझे डिजिटल पत्रकारिता में 3 सालों का अनुभव है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

---Advertisement---

Leave a Comment

Join