Birth Certificate Requirements: 1 अक्टूबर से बदल जायेंगे नियम, सरकारी कार्यालयों में सिर्फ चाहिए बर्थ सर्टिफिकेट

Birth Certificate Requirements

Birth Certificate Requirements: मोदी सरकार की ओर से आपके लिए अच्छी खबर है. 1 अक्टूबर से आप जन्म प्रमाण पत्र को एकल दस्तावेज़ के रूप में उपयोग कर सकेंगे। इस मानसून सत्र में केंद्र सरकार इस मुद्दे को संबोधित करते हुए एक विधेयक लेकर आई। इसे जन्म और मृत्यु पंजीकरण (संशोधन) अधिनियम 2023 कहा गया।

इस जन्म प्रमाण पत्र का उपयोग स्कूल-कॉलेज, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पंजीकरण, आधार, विवाह पंजीकरण और सरकारी नौकरियों के लिए किया जा सकता है। यह भी संभव है कि आपके मन में इससे जुड़े सवाल भी हों. यहां उन सवालों के जवाब दिए गए हैं:

Birth Certificate Requirements
Birth Certificate Requirements

कबसे लागू होगा यह नियम

मानसून सत्र के दौरान, जन्म और मृत्यु पंजीकरण (संशोधन) अधिनियम 2023 पेश किया गया था। कानून पारित होते ही यह 1 अक्टूबर से प्रभावी हो जाएगा। जन्म और मृत्यु पंजीकरण (संशोधन) अधिनियम 2023 से भारत में जन्म और मृत्यु पंजीकरण में सुधार की उम्मीद है। जानकारी अधिक सटीक और विश्वसनीय होगी, जिससे सामाजिक और आर्थिक विकास संभव होगा।

इसके अलावा, जन्म प्रमाण पत्र एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जो नागरिकों को विभिन्न सरकारी सेवाओं तक पहुंचने में सक्षम बनाता है। इस अधिनियम के लागू होने से जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त करना आसान हो जाएगा।

सिंगल दस्तावेज के रूप में यहाँ-यहाँ होगा उपयोग

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश के तहत 1 अक्टूबर से इसे एकल दस्तावेज के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. इस दस्तावेज़ का उपयोग करके, आप शैक्षिक प्रवेश, सरकारी नौकरियों और पासपोर्ट के लिए अधिक आसानी से आवेदन कर सकेंगे। इस अधिनियम के लागू होने से नागरिक अधिक आसानी से जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकेंगे।

जन्म प्रमाण पत्र में क्या होता है ख़ास

जन्म प्रमाण पत्र में बच्चे का नाम उसके माता-पिता के नाम के साथ दर्ज होता है। शिशु के जन्म की तारीख, स्थान और लिंग के अलावा, जन्म प्रमाण पत्र में बहुत सारी कानूनी जानकारी होती है। दस्तावेज़ बच्चे की पहचान के रूप में भी कार्य करता है।

यह भी पढ़ें- मार्केट में वापस आयेंगे 1000 और 500 रूपये के पुराने नोट, इस खबर को लेकर RBI ने दि अहम् जानकारी

जन्म प्रमाण पत्र गुम हों जाने पर क्या करें

यदि आपका जन्म प्रमाण पत्र खो जाता है तो यह कोई समस्या नहीं है। नया प्राप्त करना आसान है. नया पाने के लिए अपने जन्म स्थान के स्थानीय महत्वपूर्ण रिकॉर्ड कार्यालय से संपर्क करें। आवेदन पत्र और आवश्यक दस्तावेज जमा करें। आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा।

आपको अपने आवेदन के साथ निम्नलिखित दस्तावेज़ शामिल करने होंगे: -आपके पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, या मतदाता पहचान पत्र की एक प्रति। बिजली बिल, टेलीफोन बिल या बैंक विवरण की एक प्रति का उपयोग निवास के प्रमाण के रूप में किया जा सकता है। -दो गवाहों द्वारा हस्ताक्षरित एक आवेदन पत्र। आपके आवेदन जमा करने के बाद एक नया जन्म प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।

इस प्रक्रिया को पूरा करने में आमतौर पर कुछ सप्ताह या महीने लग जाते हैं। अतिरिक्त सावधानी के तौर पर अपने जन्म प्रमाण पत्र की एक प्रति घर पर रखें। एक प्रति बनाकर अपने कार्यालय में रखें। सुनिश्चित करें कि आपके बैंक के पास एक प्रति भी रखें. सबसे बढ़िया होगा की अपने डाक्यूमेंट्स को ऑनलाइन स्टोर करने के लिए DigiLocker App का उपयोग करें. यह भारत सरकार का अपना खुद का App हैं.

Raju Yadav

मुझे इन्टरनेट जगत की तमाम खबरों को आप तक आपके भाषा में पहुँचाने में काफ़ी ख़ुशी मिलती है. आप सभी "व्यापार सीखो" के माध्यम से बिज़नेस आईडिया, फाइनेंस, ऑटो-मोबाइल्स, तकनीकी संबंधित खबरों को एकदम सरल भाषा में पढ़ सकते हैं। मुझे डिजिटल पत्रकारिता में 3 सालों का अनुभव है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

Leave a Comment

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Join