---Advertisement---

EPS Pension Fundː रिटायरमेंट के बाद मिलेगी इतनी पेंशन, होंगा हर कर्मचारी का सपना पूरा, समझे पूरा कैलकुलेशन

EPS Pension Fundːकर्मचारी पेंशन योजना (Employee Pension Scheme) एक ऐसी योजना है जो आपको सेवानिवृत्ति के बाद भी एक सुरक्षित पेंशन देती है। इसमें निजी कर्मचारियों को और उनके परिवार को EPS पेंशन (Pension Fund) सुविधा प्रदान की जाती है। तो चलिए जानते है इस योजना के बारे में और कैसे आप इस सुरक्षित पेंशन का लाभ उठा सकते हैं।

EPS योजना के तहत वह सरकारी जिनका पीएफ अकाउंट भविष्य निधि संगठन (EPFO) के पास है तो वे इस पेंशन स्कीम में अपना नामांकन करा सकते है। लेकिन इसके लिए उनका अकाउंट 2014 से पहले का होना चाहिए। इस स्कीम से आपका भविष्य सुरक्षित हो जाता है। इस योजना के तहत निजी कर्मचारियों को भी रिटायरमेंट के बाद पेंशन की सुविधा मिलती है। आपको बता दे कि ईपीएफओ ने साल 1995 में इस योजना का नाम बदलकर EPS-95 कर दिया था।

क्या है EPS-95 पेंशन योजना

EPS-95 पेंशन योजना के तहत ईपीएफओ कर्मचारी के अलावा उसके पुरे परिवार को भी पेंशन की सुविधा दी जाती है। आपको बता दे कि इस योजना का लाभ उठाने वाले कम से कम 75 लाख पेंशन धारी है। इसके साथ ही ईपीएफओ में भी 6 करोड़ से भी ज्यादा सब्‍सक्राइबर है। जिन्हे EPS-95 योजना का लाभ उठाने का अवसर दिया गया है। जिससे उनका और उनके परिवार का भविष्य सुरक्षित हो जाएगा।

EPS Pension Fund

कैसे ले इस योजना का लाभ

इस कर्मचारी पेंशन योजना (Employee Pension Scheme) को चुनने वाले कर्मचारी अगर कम से कम 10 साल तक काम करते हैं और 58 साल की उम्र में रिटायर हो जाते हैं तो उन्हें गारंटी EPS पेंशन (Pension Fund) का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस EPS पेंशन योजना में आपको कोई भी परिस्थिति में 1000 रुपये प्रति माह से कम नहीं होगी. और यह सेवनिर्वित्ती के बाद आपको आपके जीवित रहने तक मिलते रहेगी।

पत्नी और बच्चो को कितनी मिलेगी ईपीएस पेंशन

अगर किसी भी पेंशनभोगी के साथ कोई आकस्मिक हो जाती है, तो उसके मरणोपरांत, उसकी पत्नी को EPS पेंशन (Pension Fund) का लाभ दिया जाता है। हालांकि, पत्नी को मिलने वाली EPS पेंशन की रकम कर्मचारी की 50% ही होगी। इसका मतलब है कि अगर पति को 10 हजार रुपये की पेंशन मिल रही थी, तो उसके मरने के पश्चात् उसकी पत्नी को 5 हजार रुपये की पेंशन दी जाएगी।

इसके अलावा, यदि पति पत्नी दोनों की मर्त्यु हो जाती है तो उनके बच्चो की भी इस योजना का लाभ मिलेगा। जिसमे 2 बच्चों को २५ साल की उम्र तक इस योजना का लाभ ले सकते है। जिसमे मूल पेंशन का सिर्फ २५ प्रतिशत ही मिलेगा। इसका मतलब अगर मूल पेंशन 10 हजार रुपये थी तो बच्चों को 2.5 हजार रुपये पेंशन दी जाएगी।

सेवानिवृत्ति से पहले भी मिलेगी पेंशन

इस योजना के तहत कर्मचारी रिटायरमेंट के पहले भी पेंशन का भी लाभ ले सकता है। यह उस स्थिति में होता है जब कोई बेरोजगार हो गया है तो उसे ५० साल की उम्र से ही ईपीएस पेंशन मिलेगी। इसके साथ ही, अगर कोई कर्मचारी सेवा के दौरान पूर्ण रूप से विकलांग हो गया हो तो उसे विकलांगता पेंशन दी जाएगी। इसके लिए 10 वर्ष की सेवा पूरी करने की कोई शर्त नहीं है।

व्यापार-सीखों का WhatsApp चैनल फॉलो करें! सभी ताज़ा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करें!  

Shikha

मुझे मीडिया क्षेत्र में 2 साल का अनुभव है, मुझे लेखन में काफ़ी रूचि है इसी वजह से मैं इस फील्ड में कार्यरत हूँ. मेरी पकड़, प्रोडक्ट रिव्यु, ऑटोमोबाइल, योजना, बिज़नेस आईडिया जैसे कैटेगरी में है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

---Advertisement---
Join