---Advertisement---

HDFC के बाद IDFC बैंक के महा विलय को मिली मंज़ूरी, अब मिट जाएगा नामो निशान, जानिए ग्राहकों को कितने मिलेंगे शेयर?

HDFC के बाद IDFC बैंक के महा विलय को मिली मंज़ूरी, जानिए ग्राहकों को कितने मिलेंगे शेयर?

HDFC के बाद IDFC बैंक के महा विलय को मिली मंज़ूरी, अब मिट जाएगा नामो निशान: आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के निदेशक मंडल ने सोमवार को आईडीएफसी लिमिटेड के साथ विलय को मंजूरी दे दी। परिणामस्वरूप, शेयर विनिमय अनुपात भी तय हो गया है। आईडीएफसी लिमिटेड के शेयरधारकों को उनके प्रत्येक 100 शेयरों के लिए 155 शेयर प्राप्त होंगे। विलय के बाद आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयरों में 4.9 फीसदी की बढ़ोतरी होगी।

HDFC के बाद IDFC बैंक के महा विलय को मिली मंज़ूरी, जानिए ग्राहकों को कितने मिलेंगे शेयर?
HDFC के बाद IDFC बैंक के महा विलय को मिली मंज़ूरी, जानिए ग्राहकों को कितने मिलेंगे शेयर?

अपने सोमवार के शेयर बाजार प्रकटीकरण में, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने कहा कि वह आईडीएफसी एफएचसीएल, आईडीएफसी लिमिटेड और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक की कॉर्पोरेट संरचना को सरल बना रहा है। इसके अतिरिक्त, बैंक के अनुसार, इससे नियमों का अनुपालन आसान हो जाएगा। एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी बैंक के विलय के बाद यह भारतीय वित्तीय क्षेत्र में दूसरा सबसे बड़ा विलय है।

जानिए कितना बड़ा होने वाला है विलय

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने इस मामले पर कोई जानकारी नहीं दी है. सोमवार को बाजार बंद होने तक दोनों कंपनियों के शेयरों पर नजर डालें तो इस डील की वैल्यू करीब 71767 करोड़ रुपये बैठेगी.

अभी तक मंजूरी मिलना है बाकी

फिलहाल, इस विलय को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई), भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई), सेबी, एनसीएलटी और अन्य सभी नियामक संस्थानों से मंजूरी मिलनी बाकी है। इसके अलावा, दोनों कंपनियों के शेयरधारकों को सौदे को मंजूरी देनी होगी।

क्या है कम्पनीयों के वित्तीय रिकार्ड्स

वित्तीय वर्ष 2022-23 के अंत में आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के पास 2.4 लाख करोड़ रुपये की संपत्ति थी। कंपनी को कुल 27,194 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। बैंक ने FY23 में 2437 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया। जहां तक आईडीएफसी लिमिटेड की बात है तो पिछले वित्त वर्ष के अंत में इसकी संपत्ति 9570 करोड़ रुपये और टर्नओवर 2076 करोड़ रुपये था.

इसे भी पढ़िए: ₹170 पर जाएगा इस कंपनी का शेयर | एक्सपर्ट बोले- तुरंत खरीद लो

शेयरधारकों पर क्या पड़ेगा इफेक्ट्स?

एनएसई सोमवार को आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयर 2.90 प्रतिशत की बढ़त के साथ 81.70 रुपये पर बंद हुआ। आईडीएफसी लिमिटेड 7 फीसदी की बढ़त के साथ 110 रुपये के करीब बंद हुआ। यदि यह विलय होता है तो आईडीएफसी फर्स्ट के शेयरों में बढ़ोतरी के कारण आईडीएफसी लिमिटेड के निवेशकों को अतिरिक्त शेयर हासिल होंगे और भारी मुनाफा होगा।

Disclaimer : VyaparSeekho ब्लॉग के माध्यम से आप तक केवल स्टॉक मार्केट से जुड़ी हुई सभी आवश्यक जानकारियां पहुंचाई जाती है। अतः इसे किसी भी तरह से हमारी वित्तीय सलाह न समझे क्योंकि यह जानकारियां स्टॉक मार्केट से जुड़े हुए एक्सपर्ट्स के सुझाव है।

Related Posts

Raju Yadav

मुझे इन्टरनेट जगत की तमाम खबरों को आप तक आपके भाषा में पहुँचाने में काफ़ी ख़ुशी मिलती है. आप सभी "व्यापार सीखो" के माध्यम से बिज़नेस आईडिया, फाइनेंस, ऑटो-मोबाइल्स, तकनीकी संबंधित खबरों को एकदम सरल भाषा में पढ़ सकते हैं। मुझे डिजिटल पत्रकारिता में 3 सालों का अनुभव है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

---Advertisement---

Leave a Comment

Join