Special Business Idea: घर में निक्कमा बैठने से बढ़िया है 10 हजार में शुरू करें यह बिज़नेस, जुर्माने से बचने के लिए इस बिज़नेस की बढ़ी डिमांड

Special Business Idea: घर में निक्कमा बैठने से बढ़िया है 10 हजार में शुरू करें यह बिज़नेस

Special Business Idea- घर में निक्कमा बैठने से बढ़िया है 10 हजार में शुरू करें यह बिज़नेस: अगर आप भी अपनी नौकरी से परेशान हैं। जो व्यक्ति व्यवसाय शुरू करना चाहता है उसके लिए यह एक अच्छा व्यवसायिक विचार है। आज का बिज़नेस आईडिया एक प्रदूषण परीक्षण केंद्र शुरू करने के बारे में है। इसे केंद्र सरकार ने मोटर वाहन अधिनियम के तहत लागू किया है। इससे प्रदूषण जांच केंद्र का कारोबार बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

नए मोटर वाहन अधिनियम के तहत प्रदूषण प्रमाणपत्र न होने पर भारी जुर्माना है। ऐसे में सभी वाहन मालिकों को प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (पीयूसी) की आवश्यकता होती है। इस बिजनेस को शुरू करते ही आपकी कमाई शुरू हो जाएगी.

Special Business Idea: घर में निक्कमा बैठने से बढ़िया है 10 हजार में शुरू करें यह बिज़नेस
Special Business Idea: घर में निक्कमा बैठने से बढ़िया है 10 हजार में शुरू करें यह बिज़नेस

प्रदूषण प्रमाणपत्र (पीयूसी) के बिना गाड़ी चलाने वालों पर जुर्माना लगाया जा सकता है। 10,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है. हर वाहन के लिए प्रदूषण प्रमाणपत्र की आवश्यकता होती है, चाहे वह कितना भी छोटा या बड़ा क्यों न हो। इसका मतलब है कि 50,000 रुपये की गाड़ी है. प्रदूषण प्रमाणपत्र नहीं होने पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा.

इस बिज़नेस में कितने तक होगी कमाई?

यह बिजनेस हाईवे-एक्सप्रेसवे के पास शुरू किया जा सकता है. आप शुरुआत में कम से कम 10,000 रुपये का निवेश कर सकते हैं। हर महीने आप 50,000 रुपये तक कमा सकते हैं. हाईवे और एक्सप्रेसवे पर एक दिन में 1500-2000 रुपए आसानी से कमा सकते हैं।

प्रदूषण जांच केंद्र का बिजनेस ऐसे करें शुरू?

प्रदूषण परीक्षण केंद्र खोलने के लिए स्थानीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) से लाइसेंस की आवश्यकता होती है। इसके लिए आवेदन करने के लिए नजदीकी आरटीओ कार्यालय में जाना होगा। पेट्रोल पंप और ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के पास प्रदूषण जांच स्टेशन खोलना संभव है। आवेदन के साथ 10 रुपये का शपथ पत्र देना होगा। स्थानीय प्राधिकारी को अनापत्ति प्रमाणपत्र जारी करना होगा। हर राज्य में प्रदूषण जांच केंद्र अलग-अलग शुल्क लेते हैं। कुछ राज्यों में ऑनलाइन आवेदन भी उपलब्ध हैं।

प्रदुषण जाँच केंद्र खोलने का क्या है नियम?

प्रदूषण जांच केंद्रों की पहचान पीले केबिन से ही होगी। ताकि उसकी अलग से पहचान हो सके. केबिन में 2.5 मीटर लंबाई, 2 मीटर चौड़ाई और 2 मीटर ऊंचाई होनी चाहिए। प्रदूषण जांच केंद्र पर लाइसेंस नंबर जरूर लिखना होगा।

Pollution Testing Center कौन खोल सकता है?

प्रदूषण परीक्षण केंद्र खोलने के लिए आपके पास मोटर मैकेनिक्स, ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिक्स, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, डीजल मैकेनिक्स या औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) प्रमाण पत्र होना चाहिए। धुआँ विश्लेषक (स्मोक एनालाइजर) अवश्य खरीदा जाना चाहिए।

इसे भी पढ़िए: Mushroom Business Idea: मशरूम की खेती से ऐसे बनें करोड़पति

पाठको, इस बिज़नेस में कमाई आपके दुकान खोलने के जगह के ऊपर भी निर्भर करता है. यदि आप एक्सप्रेस वे के किनारे पर अपनी दुकान शुरू करते हैं तो 2 हजार रूपये प्रतिदिन आराम से कमा सकते हैं! आपको यह बिज़नेस आईडिया कैसा लगा हमें कमेंट में जरुर लिखिए. ऐसे और भी बिज़नेस आईडिया के लिए हमारे WhatsApp ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हैं!

और पढ़ें: Real Business Idea: ₹5000 की लागत से एक कमरे में शुरू करें मशरूम की खेती, जितना लगाओगे उससे 10 गुना होगा मुनाफा

Raju Yadav

मुझे इन्टरनेट जगत की तमाम खबरों को आप तक आपके भाषा में पहुँचाने में काफ़ी ख़ुशी मिलती है. आप सभी "व्यापार सीखो" के माध्यम से बिज़नेस आईडिया, फाइनेंस, ऑटो-मोबाइल्स, तकनीकी संबंधित खबरों को एकदम सरल भाषा में पढ़ सकते हैं। मुझे डिजिटल पत्रकारिता में 3 सालों का अनुभव है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

Leave a Comment

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Join