---Advertisement---

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया लेकर आया खास योजना, One Time इन्वेस्टमेंट पर कितना मिलेगा ब्याज और कितनी होगी कमाई?

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया लेकर आया खास योजना, One Time इन्वेस्टमेंट पर कितना मिलेगा ब्याज और कितनी होगी कमाई?

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया लेकर आया खास योजना: रिटायरमेंट के दौरान नौकरीपेशा लोगों को एकमुश्त अच्छी-खासी रकम मिलती है। नियमित आय ही एकमात्र समस्या है। ऐसे में एसबीआई की एन्युइटी डिपॉजिट स्कीम आपके बहुत काम आ सकती है। इस योजना में एकमुश्त पैसा जमा करना होगा। नियमित आय के बदले में ब्याज की व्यवस्था की जा सकती है।

SBI ने दिया नियमित आय का सुविधा

एसबीआई की वेबसाइट में कहा गया है कि एन्यूटी डिपॉजिट स्कीम के जरिए कोई भी 3 साल से लेकर 10 साल तक रेगुलर इनकम का इंतजाम कर सकता है। योजना के आधार पर 36 महीने, 60 महीने, 84 महीने या 120 महीने के लिए पैसा जमा किया जा सकता है। आपको योजना में कम से कम इतना पैसा जमा करना होगा कि आप अपनी चुनी हुई अवधि के अंत तक हर महीने कम से कम 1000 रुपये प्राप्त कर सकें। अधिकतम जमा असीमित है।

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया लेकर आया खास योजना, One Time इन्वेस्टमेंट पर कितना मिलेगा ब्याज और कितनी होगी कमाई?
स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया लेकर आया खास योजना, One Time इन्वेस्टमेंट पर कितना मिलेगा ब्याज और कितनी होगी कमाई?

कुल ब्याज की राशी कितनी होगी प्राप्त?

जहां तक ब्याज की बात है, आपको नियमित आय के रूप में जो भी पैसा मिलता है, उसकी गणना ब्याज की दर के अनुसार की जाती है। यह योजना बचत खाते की तुलना में अधिक ब्याज दर प्रदान करती है। जमा पर बैंक की सावधि जमा के समान ब्याज दर उपलब्ध है। आप खाता खोलते समय लागू दर पर ब्याज अर्जित करने में सक्षम होंगे।

प्रीमैच्‍योर निकासी के क्या हैं नियम

एन्यूटी डिपॉजिट स्कीम में आप प्रीमैच्योर डिपॉजिट भी कर सकते हैं। आपात स्थिति में एक खाते से अधिकतम 15 लाख रुपये ही निकाले जा सकते हैं। 15 लाख से अधिक की जमा राशि जमा रहेगी और बदले में मासिक किश्तें प्राप्त होंगी। एफडी एफडी के समान दंड नियमों के अधीन हैं। अगर खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो नॉमिनी पूरी रकम निकाल सकता है।

75% तक आप ले सकते हैं ओवरड्राफ्ट

एसबीआई (State Bank Of India) की यह योजना जरूरत के समय काफी मददगार साबित हो सकेगी है। आपको लोन लेने का विकल्प भी मिलता है। ओवरड्राफ्ट/ऋण की आवश्यकता होने पर खाते की शेष राशि का 75% तक उधार लेना संभव है। वार्षिकी भुगतान ऋण लेने के बाद ऋण खाते में जमा किया जाएगा। इस योजना के तहत ग्राहक को एक यूनिवर्सल पासबुक भी जारी की जाती है। एसबीआई अपनी सभी शाखाओं में यह सुविधा देगा।

इसे भी पढ़ सकते हैं:

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट सेक्शन में जरुर बताएं और इस इनफार्मेशन को अपने दोस्तों के स्थ सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करें!

Related Posts

Raju Yadav

मुझे इन्टरनेट जगत की तमाम खबरों को आप तक आपके भाषा में पहुँचाने में काफ़ी ख़ुशी मिलती है. आप सभी "व्यापार सीखो" के माध्यम से बिज़नेस आईडिया, फाइनेंस, ऑटो-मोबाइल्स, तकनीकी संबंधित खबरों को एकदम सरल भाषा में पढ़ सकते हैं। मुझे डिजिटल पत्रकारिता में 3 सालों का अनुभव है। संपर्क सूत्र- vyaparseekho@gmail.com

---Advertisement---

Leave a Comment

Join